Sorry, you need to enable JavaScript to visit this website.

Science

मुंबई | सितंबर 14, 2021
सुदूर क्षेत्रों में सौर माइक्रोग्रिड, दीर्घकालिक एवं स्वच्छ ऊर्जा स्रोत

भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, मुंबई के शोधकर्ताओं ने सिक्किम के एक ऊंचाई वाले स्थान में एक सौर माइक्रो-ग्रिड स्थापित किया है।

General, Science, Technology, Engineering, News
मुंबई | सितंबर 6, 2021
दूध एवं खाने में एंटीबायोटिक्स की निगरानी करना आसान हो गया है

भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान मुंबई के शोधकर्ताओं ने भोजन और पानी में मौजूद प्रतिजैविक या एंटीबायोटिक  का पता लगाने के लिए एक सरल और नया सेंसर विकसित किया है

General, Science, Technology, Health, Society, Deep-dive
मुंबई | अगस्त 30, 2021
भारत में कुपोषण के विरुद्ध लड़ाई में नवीन सुदृढ़ खाद्य पदार्थ

विविधता को ध्यान में रखकर निर्मित किए गए स्वादिष्ट पूरक खाद्य पदार्थ नगरीय कुपोषण का उपचार हो सकते हैं।

General, Science, Health, Society, Deep-dive
मुंबई | अगस्त 9, 2021
हाइब्रिड उपचार प्रणाली: भारत में जल संकट के लिए एक समाधान

यह अध्ययन पानी की गुणवत्ता में सुधार और पर्यावरणीय प्रभाव को कम करने के लिए भारत के अपशिष्ट जल शुद्धिकरण के आधारभूत ढांचे में एक पद्धतिबद्ध परिवर्तन करने का प्रस्ताव देता है।

General, Science, Technology, Society, Deep-dive
मुंबई | अगस्त 2, 2021
भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, मुंबई के शोधकर्ता एक नए दाब-विद्युक (पीजोइलेक्ट्रिक) पदार्थ का प्रस्ताव देते हैं।

शोधकर्ता एक नए पदार्थ के गुणों की जांच करते हैं, जो सूक्ष्म एवं नैनो उपकरणों के लिए बेहतर है। 

General, Science, Technology, Engineering, Deep-dive
मुम्बई | जुलाई 26, 2021
उच्च संवेदनशील गैलियम नाइट्राइड बायोसेंसर के लिए संशोधित मॉडल

शोधकर्ताओं ने एक बायोसेंसर मॉडल का प्रस्ताव दिया है जो द्रव-सेंसर अंतराफलक (इंटरफेस) चार्ज के प्रभाव को  प्रग्रहित करता है।

General, Science, Technology, Health, Deep-dive
मुंबई | जुलाई 19, 2021
पिघले हुए लोहे के ठंडा होने की गति से उसके गुणों का निर्धारण होता है

एक नवीन शीतलन मॉडल, ढलवाँ लोहे (कास्ट आयरन) की दृढ़ता और लचीलेपन का बेहतर पूर्वानुमान देता है

General, Science, Technology, Deep-dive
मुंबई | जुलाई 12, 2021
चुंबक की सहायता से अल्प-लागत वाले हाइड्रोजन ईंधन का उत्पादन

शोधकर्ताओं ने प्रदर्शित किया है कि कैसे एक चुम्बकीकृत उत्प्रेरक (मैग्नेटाइज्ड कैटालिस्ट) ऊर्जा लागत को कम करते हुये हाइड्रोजन उत्पादन को गति दे सकता है। 

General, Science, Technology, Deep-dive
मई 24, 2021

एक समय था जब रात के आकाश  में  तारे अनंत के लिए एक उपमा थे - रात के काले कंबल में इतने सारे छितराये हुए देखे जा सकते हैं कि उन्हें गिनने में पूरा जीवन व्यतीत हो जाये। तेजी से आगे बढ़ कर अगर आज को देखें तो  अब रात का आकाश चँद्रमा और सितारों के स्थान पर शहरी रोशनी से जगमगाता है।  कृत्रिम प्रकाश के अंधाधुंध उपयोग ने - इमारतों में प्रकाश के लिये बल्ब के प्रयोग से ले कर सड़कों पर सोडियम लैंप या नीओन से चकाचौंध होर्डिंग तक - रात में तारे देखने के आनंद को खत्म कर दिया है। अनुमानित है कि दुनिया की करीब 83 प्रतिशत​ आबादी प्रकाश प्रदूषण से दूषित इलाकों में रहती है। जिसका अर

General, Science, SciQs
मुंबई | मई 7, 2021
प्रतिकर्षी रंग से लेपित सतहों पर द्रव की प्रतिक्रिया

शोधकर्ताओं ने यह अध्ययन किया कि जल उन सतहों पर किस तरह प्रवाहित होता है जो उसे अत्यधिक विकर्षित करता  है।

General, Science, Technology, Deep-dive, News
Science की  सदस्यता लें!