Sorry, you need to enable JavaScript to visit this website.

Climate Change

बेंगलुरु | नवंबर 30, 2020
हिमालय की बर्फ धीमी गति से पिघल रही है जिसके कारण समुद्र अरब सागर में चमकीली अल्गल फल फूल रही है।

अगस्त 2019 में चेन्नई के समुद्र तटों के पास नॉक्टिलुका के प्लवक खिलने के रंग बिरंगे प्रदर्शनों के गवाह बने जिससे अंधेरे में एक सुंदर चमकीला नियोन नीला रंग दिखा । इन नन्हें  प्राणियों की जीवदीप्ति से प्रेरित होकर लोगों ने रंग बिरंगी लहरों के नृत्य को तस्वीरों और वीडियो रूप में इसे साझा किया। लेकिन यह  समुद्र की चमक  (नोक्टिलुका स्किन्टिलन)  खुशी का कोई कारण नहीं है क्योंकि वे इस बात का एक गंभीर संकेत हैं कि जलवायु परिवर्तन हमारे महासागरों को कैसे प्रभावित कर रहे हैं। और हाँ हाल के वर्षों में नोक्टिलुका ने सबसे आम प्लवक जिसे समुद्र में डायटम के रूप में जाना जाता ह

General, Science, Ecology, Deep-dive
मुंबई | नवंबर 13, 2020
सामाजिक-आर्थिक बाधाओं के चलते भारतीय किसान जलवायु परिवर्तन से कैसे अपना सामंजस्य स्थापित करते हैं?

जलवायु परिवर्तन की स्थिति में सबसे उपयुक्त कृषि रणनीतियाँ निर्धारित करने के लिए वैज्ञानिकों ने महाराष्ट्र के ग्रामीण क्षेत्रों का सर्वेक्षण किया  

General
मुंबई | दिसम्बर 19, 2017
Photo: Dennis C J / Research Matters

भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान मुंबई का नया अध्ययन यह भविष्यवाणी करता है कि समुद्री तापमान का बढ़ना भारतीय अपतटीय पवन फार्म के लिए लाभदायक होगा।

General, Science, Technology, Engineering
Climate Change की  सदस्यता लें!