Sorry, you need to enable JavaScript to visit this website.

IIT Kanpur

Kanpur | दिसम्बर 31, 2021
अनभिव्यक्त समझे जाने वाले ग्राही पाए गए अभिव्यक्त !

शोधार्थियों ने प्रदर्शित किया कि पूर्व में ‘मूक संकेतक’ समझे जाने वाले दो ग्राही वास्तव में मूक नहीं हैं तथा अपेक्षा के विपरीत भिन्न तंत्र के माध्यम से संकेतन करते हैं।

General, Science, Deep-dive
कानपुर | अक्टूबर 18, 2021
प्रोस्टेट कैंसर के विस्तार में जैविक आकृति संबंधित जीन की भूमिका को समझने की दिशा में शोध

अध्ययन प्रोस्टेट कैंसर में DLX1 जीन की भूमिका की पहचान एवं इसके उन्मूलन से चूहों में कैंसरजनन कम होने की पुष्टि करता है

General, Science, Health, Deep-dive
कानपुर | अक्टूबर 19, 2020
कंप्यूटर की सहायता से कोशिकीय वंशावली को समझने का एक नया तरीका

नेचर कम्युनिकेशंस में प्रकाशित एक हालिया अध्ययन में, शोधकर्ताओं ने कोशिकीय वंशावली के पुनर्निर्माण के लिए एक नई सांख्यिकीय विधि, ‘LinTIMaT’ (लिनटीआईएमटी) का वर्णन किया है, जो वैज्ञानिकों को परस्पर विकसित होती हुई जैविक प्रणाली में कोशिकाओं के विकास को समझने की क्षमता  प्रदान करती है।

General, Science, Technology, Engineering, Deep-dive
IIT Kanpur की  सदस्यता लें!