Sorry, you need to enable JavaScript to visit this website.

mental health

बेंगलुरु | फ़रवरी 19, 2021
भारत का मानसिक स्वास्थ्य संकट परिदृश्य: मानसिक स्वास्थ्य अनुसंधान में कैसी है भारत की परिस्थिति?

किसी भी रोग पर शोध के लिए आवश्यक कदमों में से एक है यह अध्ययन करना कि उक्त रोग जनसंख्या को कैसे प्रभावित करता है। वैज्ञानिक अध्ययन करते हैं उन कारकों का जो व्यक्ति को रोग के प्रति संवेदनशील बनाते हैं और उन लोगों की संख्या का जो रोग से प्रभावित होते हैं। ये अध्ययन महामारी विज्ञान के अतंर्गत आते हैं और एक क्षेत्र में किसी विशेष रोग के भार का आकलन करने के लिए आवश्यक हैं, भले ही वह क्षेत्र एक देश हो, राज्य हो, या उसके जिले हों। इन अध्ययनों के आधार पर सरकार जनता की सहायता करने के लिए अपनी नीतियाँ निर्धारित करती है। ये अध्ययन उन वैज्ञानिकों के लिये भी डेटा का एक महत्व

Friday Features
बेंगलुरु | फ़रवरी 5, 2021
 भारत में पैर पसारती मानसिक बीमारियों का मानचित्रण

In a series of articles, Research Matters tries to shed some insights into India’s mental health concern, its different aspects, including the lack of awareness about mental health in general — through the lens of science.

General, Science, Health, Society, Friday Features
बेंगलुरु | जनवरी 29, 2021
भारत का मानसिक स्वास्थ्य संकट परिदृश्य - एक विवादास्पद विषय पर चर्चा

बेंगलुरु निवासियों की ३ सितंबर, २०१३ की सुबह इस भयावह समाचार शीर्षक के साथ हुई ‘सतर्क रहें, मनोविकृत रोगी बेंगलुरु में खुलेआम घूम रहा है’ (वॉच आउट, देयर इज साइको ऑन द लूज़)। यह​ समाचार तमिलनाडू के सलेम शहर के एक ट्र्क चालक एम.

General, Science, Health, Society, Friday Features
mental health की  सदस्यता लें!